जो सुख मुझे प्राप्त हुआ, वह पूरे विश्व को प्राप्त हो 

परम पूज्य दादा भगवान

स्वागत है !

जो सुख मुझे प्राप्त हुआ, वह पूरे विश्व को प्राप्त हो

परम पूज्य दादा भगवान

जीवमात्र निरंतर सुख की ख़ोज में है, किसी को भी दुख पसंद नहीं है| लेकिन यह खोज तब समाप्त होती हैं, जब शाश्वत सुख का स्रोत प्राप्त हो जाता है| अपने सच्चे स्वरूप द्वारा ही शाश्वत सुख की प्राप्ति हो सकती है| ए. एम्. पटेल, जिन्हे दादा भगवान के नाम से भी जानते हैं। उन्हें शाश्वत सुख का मार्ग मिल गया था। उन्होंने इस संसार को एक एक बेजोड़ आध्यात्मिक विज्ञान दिया है, जो अक्रम विज्ञान के नाम से जाना जाता है।

अक्रम विज्ञान आत्मसाक्षात्कार पर आधारित है। इस अनोखे विज्ञान से हमें जीवन की व्यावहारिक समस्याओं का समाधान मिलता है, जिससे जीवन सुखमय हो जाता है।

ज्ञानीपुरुष की कृपा से सिर्फ दो घंटों की विधि (ज्ञानविधि) द्वारा आत्मज्ञान प्राप्त हो सकता है। अनेकों ने इस शाश्वत सुख का अनुभव किया है! आप भी इस सुख को प्राप्त कर सकते हैं!

आइए और प्राप्त कीजिए आत्मज्ञान का यह अनूठा अनुभव, आत्मज्ञानी पूज्य दीपकभाई देसाई द्वारा। वीडियो देखिए
Close Video

Experienced real peace and freedom from worries

"Thing which impressed me was nobody wants anything from us and just wants to get Dada Bhagwan's knowledge.After gyan vidhi I was feeling peaceful and got rid of the negative thoughts."

Play Video
Close Video

सदियो की तलाश ख़त्म हुई

"ज्ञान प्राप्ति के अंतर्गत प्यार और सम्मान दिखाते हुए महात्मा कि भेट देने की इच्छा को दीपकभाई बताते है लेके जाओ देने की ज़रूरत नही है| सदियो से जिस ज्ञान की तलाश थी वो तो लेकर जा ही रहे है| "

Play Video
Close Video

જ્ઞાનવિધિ ની અસર કઈંક જુદી જ છે.

"ન્યૂજર્સી ના હાઈવે પર ગાડી કંઇ રીતે ચલાવી ઍની માટેની સમજણ મેં કેળવી હતી. પણ આ ભવસાગર ની અંદર ડ્રાઇવર બનીને કંઇ રીતે ચાલવું ઍની ટ્રેનીંગ કયાંથી મેળવવી અને ઍના રસ્તા કયાંથી મેળવવા ઍનો અનુભવ જ્ઞાનવિધિ માં થયો છે."

Play Video
Close Video

True discovery of god within me

"Through this blessing gift, I have stepped over the line and become very detached. I am moving towards total and complete spiritual freedom. "

Play Video
Close Video

ज्ञान से शांति

"ज्ञान दिन से लेकर आज तक अनुभव कक्षा बढ़ती जा रही है| वैसे कही पर जाने पर सिरदर्द की बीमारी रहती थी पर इस क्षेत्र के प्रभाव से ऐसा नही होता है|"

Play Video
Close Video

Felt freedom from unhappiness

"Gnan was an experience I didn't expect to have. I had been looking for it from 20-25 years. The benefit for me was I felt freedom from everything. "

Play Video
Close Video

Easy and comfortable liberation

"After gnanvidhi something has changed, something really significant. I am no longer bound to be the personality that I thought I was bound to be. "

Play Video
Experienced real peace and  freedom from worries

Experienced real peace and freedom from worries

" Thing which impressed me was nobody wants... "

00:03:31
सदियो की तलाश ख़त्म हुई

सदियो की तलाश ख़त्म हुई

" ज्ञान प्राप्ति के अंतर्गत प्यार और सम्मान दिखाते... "

00:01:12
જ્ઞાનવિધિ ની અસર કઈંક જુદી જ છે.

જ્ઞાનવિધિ ની અસર કઈંક જુદી જ છે.

" ન્યૂજર્સી ના હાઈવે પર ગાડી કંઇ રીતે ચલાવી ઍની... "

00:03:25
True discovery of god within me

True discovery of god within me

" Through this blessing gift, I have stepped over... "

00:04:25
ज्ञान से शांति

ज्ञान से शांति

" ज्ञान दिन से लेकर आज तक अनुभव कक्षा बढ़ती जा रही... "

00:02:01
Felt freedom from unhappiness

Felt freedom from unhappiness

" Gnan was an experience I didn't expect to have. I... "

00:11:41
Easy and comfortable liberation

Easy and comfortable liberation

" After gnanvidhi something has changed, something... "

00:02:36
Quotes
ये बच्चे अपना आईना हैं। अपने बच्चों पर से पता चलता है कि अपनी कितनी गलतियाँ हैं!
टीनेजर्स की परवरिश : मात-पिता और बच्चों का रिश्ता

इस हफ्ते, जानिए कुछ नया

टीनेजर्स की परवरिश : मात-पिता और बच्चों का रिश्ता

माता-पिता और बच्चों का संबंध अनादि काल से है। माता-पिता और बच्चों के संबंध को आदर्श बनाने के प्रयत्न आपको हर कहीं देखने को मिलते हैं। किशोर बच्चों को सँभालना माता-पिता के लिए एक बहुत बड़ी चुनौती है, यह एक ऐसी कला है जिसमें उन्हें ट्रेनिंग नहीं मिली। आज के युवा वर्ग की मानसिकता की संपूर्ण और गहरी समझ के साथ पूज्य दादाश्री हमें बताते हैं कि इन बच्चों का दिल कैसे जीता जा सकता है। परम पूज्य...

READ more share
लेटेस्ट अपडेट्स
23 Aug
Happy Janmashtami!

Janmashtami is the auspicious celebration of the birth of Lord...

Read More
22 Aug
Self Realization Ceremony In Adalaj, India

1700 new seekers took Self Realization through a Gnan Vidhi Ceremony...

Read More
16 Aug
Happy Rakshabandhan!

Rakshabandhan is the auspiciuous occasion where a sister ties a rakhi...

Read More
आगामी कार्यक्रम

हिस्सा लीजिए पूज्य दीपकभाई के प्रश्नोत्तरी सत्संग में और पाइए अपने जीवन की रोजमर्रा की समस्याओं के समाधान। ज्ञानविधि द्वारा अनुभव कीजिए आत्मा के आनंद का।

28 अगस्त to 05 सितम्बर

Parayan (Advanced Study) in Adalaj, India

schedule region Adalaj Gandhinagar, Gujarat, India
Darshan dateअगस्त 28, 10:00 - 12:30
Darshan dateअगस्त 28, 16:30 - 18:30
SATSANG dateअगस्त 29 To अगस्त 05
address Address: Dadanagar Hall, Trimandir Sankul, Ahmedabad - Kalol Highway
मिलिए पूज्य दीपकभाई से

जब पूज्य दीपकभाई सीमंधर सिटी में मौजूद हों, तब आप आसानी से दादा दरबार में उन से मिल सकते हैं और बात भी कर सकते हैं।

×
Share on
Copy