जो सुख मुझे प्राप्त हुआ, वह पूरे विश्व को प्राप्त हो 

परम पूज्य दादा भगवान

स्वागत है !

जो सुख मुझे प्राप्त हुआ, वह पूरे विश्व को प्राप्त हो

परम पूज्य दादा भगवान

जीवमात्र निरंतर सुख की ख़ोज में है, किसी को भी दुख पसंद नहीं है| लेकिन यह खोज तब समाप्त होती हैं, जब शाश्वत सुख का स्रोत प्राप्त हो जाता है| अपने सच्चे स्वरूप द्वारा ही शाश्वत सुख की प्राप्ति हो सकती है| ए. एम्. पटेल, जिन्हे दादा भगवान के नाम से भी जानते हैं। उन्हें शाश्वत सुख का मार्ग मिल गया था। उन्होंने इस संसार को एक एक बेजोड़ आध्यात्मिक विज्ञान दिया है, जो अक्रम विज्ञान के नाम से जाना जाता है।

अक्रम विज्ञान आत्मसाक्षात्कार पर आधारित है। इस अनोखे विज्ञान से हमें जीवन की व्यावहारिक समस्याओं का समाधान मिलता है, जिससे जीवन सुखमय हो जाता है।

ज्ञानीपुरुष की कृपा से सिर्फ दो घंटों की विधि (ज्ञानविधि) द्वारा आत्मज्ञान प्राप्त हो सकता है। अनेकों ने इस शाश्वत सुख का अनुभव किया है! आप भी इस सुख को प्राप्त कर सकते हैं!

आइए और प्राप्त कीजिए आत्मज्ञान का यह अनूठा अनुभव, आत्मज्ञानी पूज्य दीपकभाई देसाई द्वारा। वीडियो देखिए
Close Video

Experienced real peace and freedom from worries

"Thing which impressed me was nobody wants anything from us and just wants to get Dada Bhagwan's knowledge. After gyan vidhi I was feeling peaceful and got rid of the negative thoughts."

Play Video
Close Video

सदियो की तलाश ख़त्म हुई

"ज्ञान प्राप्ति के अंतर्गत प्यार और सम्मान दिखाते हुए महात्मा कि भेट देने की इच्छा को दीपकभाई बताते है लेके जाओ देने की ज़रूरत नही है| सदियो से जिस ज्ञान की तलाश थी वो तो लेकर जा ही रहे है| "

Play Video
Close Video

જ્ઞાનવિધિ ની અસર કઈંક જુદી જ છે.

"ન્યૂજર્સી ના હાઈવે પર ગાડી કંઇ રીતે ચલાવી ઍની માટેની સમજણ મેં કેળવી હતી. પણ આ ભવસાગર ની અંદર ડ્રાઇવર બનીને કંઇ રીતે ચાલવું ઍની ટ્રેનીંગ કયાંથી મેળવવી અને ઍના રસ્તા કયાંથી મેળવવા ઍનો અનુભવ જ્ઞાનવિધિ માં થયો છે."

Play Video
Close Video

True discovery of god within me

"Through this blessing gift, I have stepped over the line and become very detached. I am moving towards total and complete spiritual freedom. "

Play Video
Close Video

ज्ञान से शांति

"ज्ञान दिन से लेकर आज तक अनुभव कक्षा बढ़ती जा रही है| वैसे कही पर जाने पर सिरदर्द की बीमारी रहती थी पर इस क्षेत्र के प्रभाव से ऐसा नही होता है|"

Play Video
Close Video

Felt freedom from unhappiness

"Gnan was an experience I didn't expect to have. I had been looking for it from 20-25 years. The benefit for me was I felt freedom from everything. "

Play Video
Close Video

Easy and comfortable liberation

"After gnanvidhi something has changed, something really significant. I am no longer bound to be the personality that I thought I was bound to be. "

Play Video
Experienced real peace and  freedom from worries

Experienced real peace and freedom from worries

" Thing which impressed me was nobody wants... "

00:03:31
सदियो की तलाश ख़त्म हुई

सदियो की तलाश ख़त्म हुई

" ज्ञान प्राप्ति के अंतर्गत प्यार और सम्मान दिखाते... "

00:01:12
જ્ઞાનવિધિ ની અસર કઈંક જુદી જ છે.

જ્ઞાનવિધિ ની અસર કઈંક જુદી જ છે.

" ન્યૂજર્સી ના હાઈવે પર ગાડી કંઇ રીતે ચલાવી ઍની... "

00:03:25
True discovery of god within me

True discovery of god within me

" Through this blessing gift, I have stepped over... "

00:04:25
ज्ञान से शांति

ज्ञान से शांति

" ज्ञान दिन से लेकर आज तक अनुभव कक्षा बढ़ती जा रही... "

00:02:01
Felt freedom from unhappiness

Felt freedom from unhappiness

" Gnan was an experience I didn't expect to have. I... "

00:11:41
Easy and comfortable liberation

Easy and comfortable liberation

" After gnanvidhi something has changed, something... "

00:02:36
Quotes
कभी ज्ञानी पुरुष या भगवान हों तब प्रेम दिखता है, प्रेम में कम-ज़्यादा नहीं होता, अनासक्त होता है, वैसा ज्ञानियों का प्रेम वही परमात्मा है। सच्चा प्रेम वही परमात्मा है, दूसरी कोई वस्तु परमात्मा है नहीं। सच्चा प्रेम, वहाँ परमात्मापन प्रकट होता है! 
शुद्ध प्रेम की परिभाषा

इस हफ्ते, जानिए कुछ नया

शुद्ध प्रेम की परिभाषा

प्रेम शब्द का इस हद तक दुरुपयोग हुआ है कि हरएक कदम पर इसके अर्थ को लेकर प्रश्न खड़े होते है। यदि यह सच्चा प्यार है तो, यह ऐसा कैसे हो सकता है? सिर्फ ज्ञानीपुरुष ही जो केवल प्रेम कि जीवंत मूर्ति हैं, हमें प्रेम कि सही परिभाषा बता सकते हैं। सच्चा प्रेम वही है जो कभी बढ़ता या घटता नहीं है। मान देनेवाले के प्रति राग नहीं होता, न ही अपमान करनेवाले के प्रति द्वेष होता है। ऐसे प्रेम से दुनिया निर्दोष...

READ more share
लेटेस्ट अपडेट्स
23 Sep
Self Realization Ceremony In Lautoka, Fiji

200 new seekers took Self Realization through Gnan Vidhi Ceremony in...

Read More
19 Sep
Self Realization Ceremony in Sydney, Australia

On 17th September, 400 new seekers attained Self Realization through...

Read More
12 Sep
Self Realization Ceremony in Perth, Australia

On 10th September, 75 new seekers attained Self Realization through...

Read More
आगामी कार्यक्रम

हिस्सा लीजिए पूज्य दीपकभाई के प्रश्नोत्तरी सत्संग में और पाइए अपने जीवन की रोजमर्रा की समस्याओं के समाधान। ज्ञानविधि द्वारा अनुभव कीजिए आत्मा के आनंद का।

28 सितम्बर to 30 सितम्बर

Satsang & Gnan Vidhi in Melaka, Malaysia

schedule region Melaka, Negeri Melaka, Malaysia
SATSANG dateसितम्बर 28, 19:45 - 22:00
SATSANG dateसितम्बर 29, 19:45 - 22:00
gnan vidhi date सितम्बर 30, 18:30
address Address: Malacca Gujarati Samaj,No 186 Jalan Ujong Pasir
मिलिए पूज्य दीपकभाई से

जब पूज्य दीपकभाई सीमंधर सिटी में मौजूद हों, तब आप आसानी से दादा दरबार में उन से मिल सकते हैं और बात भी कर सकते हैं।

×
Share on
Copy