जो सुख मुझे प्राप्त हुआ, वह पूरे विश्व को प्राप्त हो 

परम पूज्य दादा भगवान

स्वागत है !

जो सुख मुझे प्राप्त हुआ, वह पूरे विश्व को प्राप्त हो

परम पूज्य दादा भगवान

जीवमात्र निरंतर सुख की ख़ोज में है, किसी को भी दुख पसंद नहीं है| लेकिन यह खोज तब समाप्त होती हैं, जब शाश्वत सुख का स्रोत प्राप्त हो जाता है| अपने सच्चे स्वरूप द्वारा ही शाश्वत सुख की प्राप्ति हो सकती है| ए. एम्. पटेल, जिन्हे दादा भगवान के नाम से भी जानते हैं। उन्हें शाश्वत सुख का मार्ग मिल गया था। उन्होंने इस संसार को एक एक बेजोड़ आध्यात्मिक विज्ञान दिया है, जो अक्रम विज्ञान के नाम से जाना जाता है।

अक्रम विज्ञान आत्मसाक्षात्कार पर आधारित है। इस अनोखे विज्ञान से हमें जीवन की व्यावहारिक समस्याओं का समाधान मिलता है, जिससे जीवन सुखमय हो जाता है।

ज्ञानीपुरुष की कृपा से सिर्फ दो घंटों की विधि (ज्ञानविधि) द्वारा आत्मज्ञान प्राप्त हो सकता है। अनेकों ने इस शाश्वत सुख का अनुभव किया है! आप भी इस सुख को प्राप्त कर सकते हैं!

आइए और प्राप्त कीजिए आत्मज्ञान का यह अनूठा अनुभव, आत्मज्ञानी पूज्य दीपकभाई देसाई द्वारा। वीडियो देखिए
Prayers by Pujyashree Deepakbhai for well being of People against Corona Virus

હાલની આવી પડેલી આપત્તિમાંથી આખું જગત વહેલામાં વહેલી તકે નિર્વિઘ્ને અને સમતાભાવે બહાર નીકળી જાય તે માટે પુજ્યશ્રીની પ્રાર્થના અને વિધિ..

Quotes
कभी ज्ञानी पुरुष या भगवान हों तब प्रेम दिखता है, प्रेम में कम-ज़्यादा नहीं होता, अनासक्त होता है, वैसा ज्ञानियों का प्रेम वही परमात्मा है। सच्चा प्रेम वही परमात्मा है, दूसरी कोई वस्तु परमात्मा है नहीं। सच्चा प्रेम, वहाँ परमात्मापन प्रकट होता है! 
शुद्ध प्रेम की परिभाषा

इस हफ्ते, जानिए कुछ नया

शुद्ध प्रेम की परिभाषा

प्रेम शब्द का इस हद तक दुरुपयोग हुआ है कि हरएक कदम पर इसके अर्थ को लेकर प्रश्न खड़े होते है। यदि यह सच्चा प्यार है तो, यह ऐसा कैसे हो सकता है? सिर्फ ज्ञानीपुरुष ही जो केवल प्रेम कि जीवंत मूर्ति हैं, हमें प्रेम कि सही परिभाषा बता सकते हैं। सच्चा प्रेम वही है जो कभी बढ़ता या घटता नहीं है। मान देनेवाले के प्रति राग नहीं होता, न ही अपमान करनेवाले के प्रति द्वेष होता है। ऐसे प्रेम से दुनिया निर्दोष...

READ more share
लेटेस्ट अपडेट्स
3 Sep
Happy Teacher’s Day!!

Teachers are like Navigators who drive us onto the Right Path! In...

Read More
19 Aug
Power of Pratikraman

Forgiveness - a word that we keep hearing so often in different...

Read More
10 Aug
Happy Janmashtami!

Janmashtami is celebrated as the birthday of this revered God. Today...

Read More
आगामी कार्यक्रम

हिस्सा लीजिए पूज्य दीपकभाई के प्रश्नोत्तरी सत्संग में और पाइए अपने जीवन की रोजमर्रा की समस्याओं के समाधान। ज्ञानविधि द्वारा अनुभव कीजिए आत्मा के आनंद का।

14 नवम्बर to 14 नवम्बर

Diwali Celebration in Adalaj, India

schedule region Gandhinagar, Gujarat, India
address Address: Trimandir, Ahmedabad-Kalol Highway, Adalaj
मिलिए पूज्य दीपकभाई से

जब पूज्य दीपकभाई सीमंधर सिटी में मौजूद हों, तब आप आसानी से दादा दरबार में उन से मिल सकते हैं और बात भी कर सकते हैं।

×
Share on
Copy