Related Questions

भगवद् गीता का सार क्या है?

अंतिम विज्ञान, प्रश्नोत्तरी के रूप में

सारी गीता प्रश्नोत्तरी के रूप में है। अर्जुन प्रश्न करता है और कृष्ण भगवान उत्तर देते हैं। कृष्ण भगवान ने गीता में प्रवचन नहीं किया है। पूछे गए प्रश्नों के उत्तर ही दिए हैं। वे प्रवचन करते ही नहीं न! अंतिम विज्ञान व्याख्यान के रूप में नहीं होता, प्रश्नोत्तरी के रूप में होता है। अंत में अर्जुन को जो जो संदेह हुआ, शंकाएँ हुई उनके जवाब दिए हैं, बस। उसका नाम धर्म। गीता परिप्रश्नेन हुई है।

परिप्रश्नेन यानी अर्जुन प्रश्न पूछे और कृष्ण भगवान उनके उत्तर दें। यही पूरी गीता का सार है। 

मतलब कृष्ण भगवान ने क्या कहा? परिप्रश्न यानी प्रश्न पूछकर आखिरी स्टेशन पर आना। बाकी बिना प्रश्न पूछे आखिरी स्टेशन पर नहीं आ सकते।

महावीर भगवान ने भी प्रश्नोत्तरी के रूप में ही कहा है। भगवान महावीर और गौतम स्वामी उन्होंने भी प्रश्नोत्तरी के रूप में ही सत्संग किया है। गौतम स्वामी और ग्यारह गणधर पूछा करते हैं और भगवान महावीर उनके उत्तर देते हैं। गणधरों ने जो पूछा था, उनके उत्तर के रूप में ही महावीर भगवान का पूरा शास्त्र लिखा गया है।

प्रश्नकर्ता: ये सभी आपके पास रोज़ाना आते हैं तब क्या वे सभी सारी ज़िंदगी आते ही रहेंगे?

दादाश्री: नहीं, नहीं। यह ज्ञान लेने के बाद सारे प्रश्नों का अंत आ जाता है। फिर प्रश्न ही नहीं उठता न! सारे प्रश्नों के आप ज्ञाता हो जाएँ फिर पूछने को ही कहाँ रहा? और यहाँ भी यह सब प्रश्नोत्तरी के रूप में ही है। हमने यह ज्ञान कैसा दिया है? प्रश्न पैदा ही नहीं होते! 

Related Questions
  1. श्रीमद् भगवद् गीता का रहस्य क्या है? भगवद् गीता का सार क्या है?
  2. विराट कृष्ण दर्शन या विश्वदर्शन के समय अर्जुन ने क्या अनुभव किया था? और ये विराट स्वरुप क्या है?
  3. भगवद् गीता में श्री कृष्ण भगवान ने ‘निष्काम कर्म’ का अर्थ क्या समझाया है?
  4. ब्रह्म संबंध और अग्यारस का वास्तविक अर्थ क्या है? सच्ची भक्ति की परिभाषा क्या है?
  5. भगवद् गीता के अनुसार स्थितप्रज्ञा यानि क्या?
  6. श्री कृष्ण भगवान के अनुसार प्रकृति के तीन गुण कौन से हैं? भगवान श्री कृष्ण के साथ एकाकार (अभेद) होने के लिए क्यों और किस प्रकार चार वेदों से ऊपर उठा जा सके?
  7. ओम् नमो भगवते वासुदेवाय का अर्थ क्या है? वासुदेव के गुण क्या होते हैं? भगवान श्री कृष्ण को वासुदेव क्यों कहा गया है?
  8. गोवर्धन पर्वत को छोटी ऊँगली पर उठाना – सत्य है या लोक कथा?
  9. ठाकोरजी की पूजा-भक्ति किस तरह करनी चाहिए?
  10. पुष्टिमार्ग का उद्देश्य क्या है? श्री कृष्ण भगवान को नैष्ठिक ब्रह्मचारी क्यों कहा गया है?
  11. कृष्ण भगवान का सच्चा भक्त कौन है? वास्तविक कृष्ण या योगेश्वर कृष्ण कौन हैं?
  12. भगवद् गीता के अनुसार, जगत कौन चलाता है?
  13. स्वधर्म और परधर्म किसे कहते हैं?
  14. भगवद् गीता का सार क्या है?
  15. भगवान श्री कृष्ण की सत्य और लोक कथाएँ
×
Share on
Copy